ALL Image PP-News IBBS EPI PARTY Company MORCHA LIC & Job's SYSTEM
बुद्ध ने समानता क्यों दी
November 19, 2019 • Mr. Pan singh Argal (Dr. PS Bauddh)

तथागत बुद्ध ने संघ में दीक्षित नवागत भिक्खुओं से कहा.....

 "हे भिक्खुओं ! आप लोग कई देशों और कई जातियों से आये हैं | जिस प्रकार आपके देश-प्रदेश में अनेक नदियाँ बहती हैं और उनका अलग अस्तित्व दिखाई  देता है | जब ये सागर में मिलती हैं तब अपने पृथक अस्तित्व को खो बैठती हैं , वे सब समुद्र में समां जाती हैं |

 बौद्ध धम्म भी समुद्र की ही भांति है इसमें सभी एक हैं | समुद्र में गंगा यमुना के मिल जाने पर उसके पानी को अलग पहचानना कठिन है | इसी प्रकार आप लोगों के बौद्ध धम्म में आने पर सभी एक है-सभी सामान हैं | इस प्रकार की बात कहने वाले एक ही महामानव हुए हैं और वह हैं तथागत गौतम बुद्ध | तथागत बुद्ध ने कहा कि... इस पृथ्वी पर समस्त मानव एक सामान हैं इसलिए सबके साथ समानता का व्यवहार होना चाहिए |

    बुद्ध धम्म की क्या पहचान? मानव मानव एक सामान |
    सबको इज्जत सबको मान यही है बुद्ध धम्म की शान ||

        ★ नमो बुद्धाय • जय भीम • धम्म प्रभात दोस्तो ★

               #प्रस्तुति : डॉ पी एस बौध्द , धम्म प्रचारक