ALL Image PP-News BADA Herbal Company EPI PARTY IBBS MORCHA LIC & Job's SYSTEM
चलो बुद्ध की ओर
November 18, 2019 • Mr. Pan singh Argal (Dr. PS Bauddh)

जो चौधरी छोटुराम सहित बहुजन मूलनिवासी महापुरुषों की विचारधारा को मानता हो.. कविता को पढ़े👇👇👇👇👇👇
दिखावट छोड़ो कलम उठाओ, परिवर्तन आ जायेगा ।
शिक्षा को हथियार बनाओ, परिवर्तन आ जायेगा ।।
दारू छोडो ज्ञान बढ़ाओ, परिवर्तन आ जायेगा ।
हर कीमत पर पढ़ो पढ़ाओ, परिवर्तन आ जायेगा ।।
मनुवादी साधू सन्यासी, ढोंगी पाखंडी पंडे ।
जनम-जनम के दुश्मन है ये, मत थांमो इनके झंडे ।।
इनको हमसे काम चाहिए, सन्डे हो या मंडे ।
इनके झांसे में ना आओ, परिवर्तन आ जायेगा ।।
जाट, गुर्जर, अहीर के बच्चों को, कोई दुलार नहीं करता ।
बहुजन उज्जवल भविष्य को,  कोई स्वीकार नहीं करता 
बहुजन  महापुरुषो का भी, कोई सम्मान नहीं करता ।
इनके आगे सर ना झुकाओ, परिवर्तन आ जायेगा ।।
कहने को तैतीस करोड़ देवता है, कोई नहीं अपना ।
कोई नहीं चाहता कि, बहुजन  का सच हो सपना ।।
सपना अपना सच करने को, खुद आगे आना होगा ।
बात यही सबको समझाओ, परिवर्तन आ जायेगा ।।
मानवता के धर्म को मानो, कर्म को ही मानो पूजा ।
माता पिता से बढ़के जग में, देव नहीं कोई दूजा ।।
भला चाहते हो तो ऊँची, करलो अपनी सीढ़ी को ।
संसद तक पहुँचाओ, आने वाली पीढ़ी को ।।
खुद अपनी तुम राह बनाओ, परिवर्तन आ जायेगा ।
आज भी गाँवो में देखो, बहुजन एक नही हैं जूरी में ।।
नहीं परवान चढ़ पाता है, गाँवो की मजबूरी  में ।
अगर हो छोटुराम के वंशज, थोडा फर्ज निभा देना ।।
अपने सोते  समाज को जगाके, दीनबंधु का कर्ज चूका देना ।
तुम अपना कर्तव्य निभाओ, परिवर्तन आ जायेगा ।।
Copyed
( *अतः पाखण्ड से मुक्ति, जीने की युक्ति बताने वाले भीम के अंतिम सन्देश बुद्ध के धम्म पर चलो: वीरेंद्र बौद्ध धारवान बासिया 9812112158* )