ALL Image PP-News BADA Herbal Company EPI PARTY IBBS MORCHA LIC & Job's SYSTEM
डर क्या है जाने
November 20, 2019 • Mr. Pan singh Argal (Dr. PS Bauddh)

पूंजीवादी अमेरिका को कम्युनिज्म से डर लगता है !

कम्युनिज्म को पूंजीवादी व्यवस्था से डर लगता है !

धर्म गुरुओं को नास्तिकों से डर लगता है !

आस्था श्रद्धा अन्धविश्वास को वैज्ञानिक दृष्टिकोण से डर लगता है !

मूल्ला साहिब को पश्चिमी सभ्यता पश्चिमी शिक्षा से डर लगता है !

पति को पत्नी के स्वतंत्र विचार से डर लगता है !

पंडा पुरोहित बाभन ब्राह्मण को आंबेडकर और पेरियार के अनुयायियों से डर लगता है !

लगना भी चाहिए.... आंबेडकर पेरियार के विचारों के कारण भारत ब्राह्मण राष्ट्र नही बन पा रहा है, जिसे अधिकतर लोग चाहे पक्ष हो या विपक्ष हिन्दू राष्ट्र कहना बोलना लिखना पसंद करते हैं,

सिर्फ पेरियार अम्बेडकरवादि सीना तान कर कहते हैं हिन्दू राष्ट्र का छिपा हुआ नाम ब्राह्मण राष्ट्र है.

ब्राह्मणों रुडीवादी संगठन आरएसएस भारत देश को हिन्दू राष्ट्र के नाम पर ब्राह्मण राष्ट्र बनाना चाहते हैं. संविधान की रक्षा के लिए पेरियार अम्बेडकरवादि डटकर वैचारिक मुकाबला कर ब्राह्मणवाद को कमजोर कर रहे हैं !

पेरियार अम्बेडकरवादि कहते हैं देश में कोई भी जाति के आधार पर छोटा या बड़ा नही होना चाहिए. जाति का विनाश कर नया भारत बने जहां पर सभी को एक समान शिक्षा स्वास्थ्य और सामाजिक अधिकार मिले !

ब्राह्मणों को मंजूर नही, अब ब्राह्मणों को अम्बेडकर पेरियारवाद पर हमला करना है तो वे खुद सामने ना आकर हरियाणा के अहीर को भगवा वस्त्र पहनाकर बाबा रामदेव बनाकर उससे जवाबी हमला कराएंगे !

भाई को भाई से लड़ाएंगे और अपने दूर बैठे युद्ध का मज़ा लेंगे !

सनातन वैदिक संस्कृति ने अहीर बाबा रामदेव का ब्रेन वाश कर दिया है, उसकी आंखें बंद है लेकिन आप लोग अपनी आंखें खुली रखें !

समय आँखों में आंखें डालकर ब्राह्मण वैदिक धर्म को वैचारिक आतंकवाद कहने का है जिसमे जाति के नाम पर दमन शोषण यातना है !

✍Kranti Kumar